Tuesday, January 31, 2023
टॉप न्यूज़जिला महामंत्री (महिला मोर्चा) ने लगाया गंभीर आरोप,अधीक्षक के सह पर...

जिला महामंत्री (महिला मोर्चा) ने लगाया गंभीर आरोप,अधीक्षक के सह पर चलाये जा रहे अवैध नर्सिंग होम

Amitesh Kumar Mishra
Amitesh Kumar Mishrahttps://vckhabar.in/
मैं अमितेश कुमार मिश्रा(Amitesh Kumar Mishra) ग्राम -शिवदासीपुर, पोस्ट-शहीदगाँव, जनपद-चंदौली का निवासी हूँ| हमारा उद्देश्य शीर्ष वेब पोर्टल (https://www.vckhabar.in/) के माध्यम से अपनी खबरों द्वारा जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (https://www.vckhabar.in/) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है। किसी भी प्रकार के खबर/विज्ञापन के लिए आप हमे किसी भी समय +91 9415055028,6306263872 पर काल कर सम्पर्क कर सकते हैं |

बलिया। जनपद के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रसड़ा के अधीक्षक विरेन्द्र कुमार को भारतीय जनता पार्टी की महिला मोर्चा की जिला महामंत्री व आशा संघ की रसड़ा ब्लाक अध्यक्ष रागिनी सिंह ने गंभीर आरोपों के घेरे में खड़ा कर दिया है । एक प्रेसवार्ता के दौरान रागिनी ने अधीक्षक पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि शहर में तमाम अवैध नर्सिंग होम अधीक्षक विरेन्द्र कुमार के सह पर व पैसे के दम पर संचालित हो रहे हैं, जहां मजबूरी में जाने वाले गरीब मरीजों का खून चूसा जा रहा है ।
रागिनी ने अधीक्षक पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हे ऐसा बताया गया है कि नगर में अवैध रूप से संचालित होने वाले तमाम नर्सिंग होम अधीक्षक की सह पर मरीजों से धन उगाही करते हैं। और साल में दो-दो लाख रुपयों से अधीक्षक की झोली भरते हैं। बताया की सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रसड़ा पर मरीज की स्थिति सामान्य न होने की दशा में उन्हें बाहर भेज दिया जाता है। जिसके बाद निजि अस्पतालाें में जाने पर वहां उनसे धनउगाही की जाती है। जिसका विरोध करने पर उनसे साफ तौर पर कहा जाता है कि उन्हे अधीक्षक विरेन्द्र कुमार का समर्थन प्राप्त है। जोकि अति निन्दनीय है ।

रागिनी ने मीडिया के माध्यम से सरकार को इस ओर अपना ध्यान आकृष्ट कर अधीक्षक पर कार्यवाही करने की मांग की है । साथ ही मामले में कार्यवाही न होने पर आगे नया रूख अपनाने की चेतावनी भी दी है ।
कहा कि नगर में संचालित होने वाले तमाम नर्सिंग होमों में से अधिकतर बिना रजिस्ट्रेशन के संचालित हो रहे हैं और जिनको सामान्य प्रसव कराने की अनुमति है, पर उनमें धड़ल्ले से सीजर कर अवैध रूप से धनउगाही की जा रही है । जो कि सीधे तौर पर अधीक्षक की नर्सिंग होम संचालकों से मिली भगत का नतीजा है और मामले पर अगर कोई कार्यवाही नहीं होती है तो हम आगे नया रूख अपनाएंगे।
वहीं मामले पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के अधीक्षक विरेन्द्र कुमार से फोन के माध्यम से बातचीत करने पर उन्होने ने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए उन्हें सिरे से खारिज कर दिया साथ ही नगर मे संचालित होने वाले नर्सिंग होम के विषय में पूछने पर उन्होने बताया की पूरे जिले की नर्सिंग होमों की जांच चल रही है। उसमें जो दोषी पाए जाएंगे उन पर कार्यवाही होगी और जो सही होंगे वो सुचारू रूप से संचालित होंगे।

spot_img
spot_img
जरूर पढ़े
Latest News

More Articles Like This

You cannot copy content of this page