Tuesday, January 31, 2023
गाज़ीपुरग़ाज़ीपुर के गड़ार गांव में मूर्ति स्थापना व तीन दिवसीय पूजा कार्यक्रम...

ग़ाज़ीपुर के गड़ार गांव में मूर्ति स्थापना व तीन दिवसीय पूजा कार्यक्रम सम्पन्न

15 वर्षो से चला आ रहा था मंदिर निर्माण कार्य।

गाजीपुर। करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के गड़ार गांव के नवनिर्मित शिव मंदिर में शिवलिंग व मूर्ति की स्थापना की गई । इस कार्यक्रम के लिए योग्य ब्राह्मणों की देखरेख में हुए तीन दिवसीय पूजा पाठ का कार्यक्रम चला। पहले दिन कलश यात्रा और बेदीयों का निर्माण दूसरे दिन पंचांग पूजन, वेदी पूजन, मंडप प्रवेश, अग्नि स्थापना, मूर्ति काजल अधिवास और तीसरे दिन अंतिम दिन नगर भ्रमण, प्राण प्रतिष्ठा, और भंडारा प्रसाद वितरण का कार्यक्रम रहा नवनिर्मित शिव मंदिर के अंदर वेद मंत्र उच्चारण के साथ शिवलिंग व मूर्तियों को स्थापित किया गया।

विद्वान ब्राह्मणों की देखरेख में की गई मूर्तियों की स्थापना,साथ ही कलश यात्रा भी निकाली गई।

गड़ार गांव में 15 साल से हो रहे मंदिर निर्माण का कार्य संपन्न हुआ इसके बाद मंदिर में रंग रोगन व अन्य कार्यक्रमों के साथ विद्वान ब्राह्मणों की देखरेख में मूर्तियों की स्थापना की गई। इसके लिए बेदी स्थापना कर मंत्र उच्चारण के साथ मूर्तियों का पहले पूजन किया गया। इसके बाद इन मूर्तियों को जल, दुग्ध, नौवेद्य आदि से स्नान कराया गया। कार्यक्रम के दौरान कलश यात्रा निकाला गया जिसमें मूर्तियों को साथ में लेकर पुरे गांव का भ्रमण कराया गया। नगर भ्रमण के बाद मूर्तियों को शिव मंदिर ले आया गया जहां विद्वान ब्राह्मण आचार्य त्रिवेंद्र नाथ पांडेय, आचार्य देव दत्त पांडेय, आचार्य अनूप ओझा, अनूप पांडेय, मुन्ना तिवारी व लक्ष्मण पांडेय द्वारा वैदिक मंत्र उच्चारण के साथ मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा की गई जहां हर-हर महादेव के जयकारे से वातावरण गूंज उठा।

इस शिव मंदिर में शिव लिंग के अलावा मां लक्ष्मी नंदी कार्तिकेय और गणेश शिव परिवार को स्थापित किया गया।
कार्यक्रम के अंत में भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें पधारे भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया। गांव वालों ने बताया कि यह गड़ार गांव में सबसे ज्यादा पंडितों की जनसंख्या रही उसके बाद भी इस गांव में मंदिर नहीं था ग्राम वासियों ने मिलकर एकजुट होकर मंदिर के लिए परिश्रम करके और 15 वर्ष के बाद इस मंदिर को तैयार किया गया इससे गांव में और पूरे क्षेत्र में खुशी का माहौल है। में

spot_img
spot_img
जरूर पढ़े
Latest News

More Articles Like This

You cannot copy content of this page