Monday, January 30, 2023
उत्तर प्रदेशजौनपुरभैंसों की नस्ल में सुधार करके बढ़ाया जा सकता है दूध का...

भैंसों की नस्ल में सुधार करके बढ़ाया जा सकता है दूध का उत्पादन – पशुपालक

Vckhabar
Vckhabar
www.vckhabar.in

बदलापुर विकासखंड के घनश्यामपुर गांव निवासी हरिश्चंद्र यादव उर्फ हरि ने ब्लाक की भैंसों की नस्ल बदलने के उद्देश्य से भारत में चर्चित युवराज भैंसा का बच्चा जिसका नाम उन्होंने घनश्याम रखा है, उसे लाकर करीब दो साल से पाला है। जो इस समय तीन साल का हो चुका है। पशुपालक ने बताया जब वह घनश्याम को हरियाणा से खरीद कर लाया था | तब घनश्याम की मां 18 से 20 लीटर दूध देती थी। अगर इस भैंसे की ऊंचाई की बात करे तो वर्तमान में यह 5 फुट 2 इंच का हुआ है और अभी इसके चार दांत हुए है। पशुपालक ने बताया कि घनश्याम को पशु आहार के साथ-साथ सेब केला और दूध भी बीच – बीच में पिलाते रहते है। क्षेत्र के विभिन्न पशु व्यापारियों के द्वारा घनश्याम का दाम 10 से 12 लाख रूपये लगाने के बाद भी पशुपालक ने नहीं दिया। उनका साफ साफ कहना है कि चाहे पचास लाख रूपये कोई दे फिर भी वह घनश्याम को नहीं बेचेंगे। वह केवल घनश्याम को अपने बदलापुर ब्लाक के भैंसों की नस्ल में सुधार करने के लिए हरियाणा से लाये है । बदलापुर के अलावा मछलीशहर, शाहगंज, मुंगराबादशाहपुर के विभिन्न पशु व्यापारियों ने अपने भैंस की नस्ल में सुधार करने के लिए वाहन से अपनी भैंस को हरिश्चंद्र के यहाँ क्रास कराने के लिए लाते हैं।

spot_img
spot_img
जरूर पढ़े
Latest News

More Articles Like This

You cannot copy content of this page