Friday, July 1, 2022
उत्तर प्रदेशपुरातत्व विभाग की टीम ने प्राचीन शिव मंदिर माटी गांव ने खुदाई...

पुरातत्व विभाग की टीम ने प्राचीन शिव मंदिर माटी गांव ने खुदाई के लिए किया सर्वेक्षण

क्षेत्र के माटी गांव स्थित प्राचीन शिव मंदिर पर पुरातत्व विभाग की नजर बनी हुई है। इसकी खुदाई भी पिछले वर्ष शुरू हुई थी ।लेकिन कोरोना काल के दौरान इसमें रुकावट आ गई। लेकिन एक बार फिर पुरातत्व विभाग खुदाई शुरू करने के लिए रूपरेखा तैयार करने में जुटा हुआ है। मंगलवार को काशी हिंदू विश्वविद्यालय पुरातत्व विभाग की पांच सदस्य टीम स्थल का निरीक्षण किया। शिवरात्रि के मेले को देखते हुए खुदाई का कार्य आगे के लिए टाल दिया गया है।
काशी हिंदू विश्वविद्यालय पुरातत्व विभाग के विभागाध्यक्ष ओंकार नाथ सिंह के नेतृत्व में माटी गांव प्राचीन शिव मंदिर के खुदाई का कार्य किया जा रहा है। इनके नेतृत्व में मंगलवार को डॉक्टर बीआर मणि आंतरिक महानिदेशक भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग नई दिल्ली, सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर अयोध्या मामले का भी पटाक्षेप इन्होंने ही किया था। यही नहीं इस वक्त खुदाई के लिए लाइसेंस देने वाले पांच सदस्यों की टीम मेंबर है। हालांकि प्राचीन शिव मंदिर माटी गांव की खुदाई का लाइसेंस भी सरकार द्वारा मिल चुका है। इनके साथ ही काशी हिंदू विश्वविद्यालय के प्रोफेसर एके दुबे, डॉ विनय कुमार आदि लोगों ने प्राचीन शिव मंदिर प्रांगण का स्थलीय निरीक्षण किया। वही आगे शिवरात्रि मेले के बाद खुदाई की रूपरेखा व स्थल का चयन किया। खुदाई के पूर्व से ही प्राचीन शिव मंदिर को लेकर आसपास के लोगों की आस्था जुड़ती जा रही है। अगर पुरातत्व विभाग की खुदाई में कुछ मिला तो पर्यटक के रूप में विकसित होने का सपना ग्रामीणों का पूरा होते देर नहीं लगेगी।

इनसेट

खुदाई का नेतृत्व कर रहे हैं प्रोफेसर ओंकार नाथ सिंह ने बताया कि इसमें मुख्यमंत्री से लेकर सांसद तक सहयोग मांगा जा रहा है। इसमें चंदौली के सांसद महेंद्र नाथ पांडेय से भी खुदाई में सहयोग के लिए निवेदन किया गया है। अगर सहयोग मिलता है तो हम लोगों को जरूर कामयाबी हासिल होगी।

जरूर पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

More Articles Like This