Friday, July 1, 2022
varanasiसहायक कार्यकर्ता बना पशु डॉक्टर लगाया पशु चिकित्सा केन्द्र का साइन बोर्ड...

सहायक कार्यकर्ता बना पशु डॉक्टर लगाया पशु चिकित्सा केन्द्र का साइन बोर्ड नामक खबर प्रकाशित होने पर मातहतों में मचा हड़कम्प..

Vckhabar
Vckhabar
www.vckhabar.in

पशु चिकित्सा केन्द्र का साइन बोर्ड लगाकर घर पर करता था पशुओं का उपचार,चिकित्सा प्रभारी ने दी कड़ी चेतावनी दोबारा शिकायत मिलने पर होगी कार्यवाही

 वीसी खबर पर खबर प्रकाशित होने के बाद साइन बोर्ड हटाया गया

वीसी खबर पर खबर प्रसारित होने के बाद साइन बोर्ड हटाया गया

रोहनिया/-आराजी लाइन विकास खण्ड के ग्राम पंचायत भीखमपुर बभनियाव में पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टरों के साथ रहने वाला सहायक खुद बन गया था पशु डॉक्टर घर पर बड़ा साइन बोर्ड लगाकर करता था पशुओं के अनेकों प्रजाति का उपचार “वीसी खबर” ने अपने आज 22 मार्च दिन सोमवार के पोर्टल पर”सहायक कार्यकर्ता बना पशु डॉक्टर लगाया पशु चिकित्सा केंद्र का साइन बोर्ड” नामक शीर्षक से जब प्रसारित किया तो सम्बंधित विभाग के आला अधिकारियों में हड़कम्प मच गया।प्राप्त जानकारी के मुताबिक ढढोरपुर में स्थित पशु चिकित्सा केन्द्र पर तैनात पशुधन प्रसार अधिकारी जयप्रकाश गुप्ता ने क्षेत्र में अपने सहयोग के लिए सीडीटीआरआई प्रशिक्षित प्रदीप कुमार माथुर को सहायक कर्मचारी के रूप में रखकर कार्य करवा रहे थे कुछ दिन कार्य करने व कार्य विधि को देखने के बाद सहायक प्रदीप के दिमाक की बत्ती जली और वह खुद पशुओं का इलाज करने के लिए पशु डॉक्टर बन गया और फिर क्या प्रदीप ने अपने भीखमपुर आवास पर बड़ा सा साइन बोर्ड बनाकर उस पर मोटे हेडिंग में लिख दिया “” कृत्रिम गर्भाधान एवं पशु चिकित्सा केंद्र”” जर्सी,फिजिशियन,मुर्रा,भदावरी,सिंहरोधन,बधिकरण आदि का इलाज कराये,24 घण्टे सेवा उपलब्ध।उक्त बोर्ड के लगते ही गाँव मे चर्चा का बाजार गर्म हो गया देखते ही देखते उक्त फर्जी क्रिया कलाप की जानकारी ग्रामीणों द्वारा पशुधन प्रसार अधिकारी को दी गयी थी,पशुधन प्रसार अधिकारी जेपी गुप्ता ने घटना की सूचना पशु चिकित्सा अधिकारी आराजी लाइन को दिया था।मंगलवार को पशु चिकित्सा अधिकारी आराजी लाइन डॉ आशीष कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम पहुंची और सहायक प्रदीप कुमार माथुर के घर पर लगे साइन बोर्ड को उतरवा दिया और साथ ही साथ सहायक प्रदीप कुमार माथुर को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि अगर ऐसी गलती दोबारा पाई जाती है तो आप के खिलाफ विभागीय कार्यवाही की जाएगी।

जरूर पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

More Articles Like This