Friday, December 2, 2022
उत्तर प्रदेशचंदौलीबारिश के मौसम में त्वचा संबंधी बीमारियों के लिए रहें सजग

बारिश के मौसम में त्वचा संबंधी बीमारियों के लिए रहें सजग

बारिश के मौसम में त्वचा संबंधी बीमारियों के लिए रहें सजग,भीगे रहने से कई बीमारियां देती हैं दस्तक – डॉ अनुज

चन्दौली – 23 जून 2021|बारिश का मौसम आते ही लोगों को गर्मी से तो राहत मिल जाती है, लेकिन इस मौसम में त्वचा संबंधी कई बीमारियां दस्तक देती हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वी पी द्विवेदी ने कहा – कोरोना काल में इनसे बचने के लिए सभी को सेहत पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। बारिश के मौसम में त्वचा संबंधी समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है, जिनमें त्वचा में खुजली होना, तेलीय त्वचा होना, फंगल इंफेक्शन, पैर की अगुलियों में इंफेक्शन, मुंहासे और एक्जिमा बरसात में त्वचा संबंधी प्रमुख बीमारियां हैं। खासकर कोरोना संक्रमण के चलते इसका त्वचा पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है, जिस वजह से बरसात के समय में त्वचा पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है |

डॉ अनुज
डॉ अनुज

कमला पति त्रिपाठी जिला संयुक्त चिकित्सालय के त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ अनुज सिंह का कहना है कि इस मौसम में त्वचा का भी विशेष ख्याल रखना होगा। कोरोना वायरस के कारण त्वचा संबंधी बीमारियों का प्रभाव पड़ रहा है। नमी और उमस भरे मौसम में रोम छिद्रों को बंद कर देता है। जो त्वचा संबंधी कई बीमारियों को जन्म देता जैसे -दाद गीले कपड़ों और पसीने के कारण होती है। कोरोना के संक्रमण के कारण मरीजों में कोरोना फुट (पैर) की समस्या भी हो रही है। इसमें पैरों में चकत्ते पड़ना, दर्द होना और एलर्जी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। देर तक भीगे रहने से त्वचा पर लाल रंग के धब्बे पड़ने के साथ ही खुजली, फंगल इंफेक्शन, पैर की उंगलियों में इंफेक्शन, मुंहासे और एक्जिमा, खुजली, सूजन, आदि त्वचा संबंधी अनेक समस्या उत्पन होती हैं। इन्फेक्शन या खुजली से त्वचा में पानी जैसा चिपचिपापन आने व त्वचा पर लाल रंग के धब्बे ज्यादा होने या खुजली होने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर चिकित्सक से सलाह लें । इस तरह की समस्या को बिल्कुल भी नजर अंदाज न करें |

त्वचा से संबंधित करें देखभाल –

डॉ अनुज ने कहा कि इस मौसम में गर्मी और उमस से बचने के लिए सूती व कॉटन के ढीले कपड़े पहनें। कपड़े की सफाई पर विशेष ध्यान देना होगा, डिटोल के कुछ बूँद पानी में डाल कर साफ करें| हाथ, पैर की सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए| गीले कपड़े को तुरंत बदल दें | बरसात में कपड़ों में धूप कम लगती है इसलिए जरूरत के कपड़ों में प्रेस करें जिससे कपड़े की नमी खत्म हो जाये | खुले हुए जूते पहनें, जूतों में पानी भरने के कारण फंगल संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है | कोरोना वायरस महामारी के चलते मास्क पहनना अनिवार्य है, ऐसे में कपड़े से बने मास्क का इस्तेमाल करने से इससे त्वचा को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है। कपड़े के मास्क को रोजाना जरूर धोया और सुखा कर प्रयोग करें |

  • त्वचा को संक्रमण से बचाएं –
  • चेहरे को दिन में तीन से चार बार साफ पानी से जरूर धोएं
  • कपड़े और दूसरी चीजें किसी से साझा न करें, क्योंकि त्वचा की समस्याएं संक्रामक होती हैं।
  • हाथ और पैरों को साफ और सूखा रखें।
  • भोजन में आसान और पोषक युक्त चीजों का सेवन करें। साबुत अनाजों, फलों व सब्जियों को शामिल करें।
  • पेय पदार्थों जैसे चाय, कॉफी और तले-भुने खाद्य पदार्थों के सेवन से बचें। इनसे त्वचा बेजान और रुखी होती है।

इस मौसम में ज्यादा प्यास नहीं लगती, लेकिन शरीर में जल का स्तर बनाए रखने के लिए रोज़ाना 8 से 10 गिलास पानी जरूर पिएं | बरसात में पानी दूषित हो जाता है, गुनगुना पानी ही पिएं |

join vc khabar
spot_img
  • vc khabar
जरूर पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

More Articles Like This

You cannot copy content of this page