Monday, November 28, 2022
राजनीतियूपी में बिगड़ रहा बसपा का ग्राफ,तीन दशक के सबसे निम्न स्तर...

यूपी में बिगड़ रहा बसपा का ग्राफ,तीन दशक के सबसे निम्न स्तर पर

एक प्रतिष्टित सर्वे वेबसाइट की माने तो नतीजे बताते हैं कि 403 सदस्‍यीय विधानसभा में बीजेपी के नेतृत्‍व वाला गठबंधन 230-249 सीटें हासिल करेगा। अगर ऐसा होता है तो योगी आदित्‍यनाथ 1985 के बाद से लगातार दो बार सीएम की कुर्सी पर बैठने वाले पहले नेता बन जाएंगे। ओपिनियन पोल के अनुसार, सबसे बुरी हालत कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी की होगी। दोनों पार्टियां यूपी के चुनावी संग्राम में गर्त में पहुंचती नजर आ रही हैं।

फिर सिंगल डिजिट्स में सिमट सकती है कांग्रेस

2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन बेहद ही शर्मनाक रहा था। चुनाव में पार्टी केवल 7 सीटों तक ही सीमित रह गयी थी। टाइम्‍स नाउ नवभारत के ओपिनियन पोल की माने तो कांग्रेस के बुरे प्रदर्शन का दौर 2022 में भी जारी रहने वाला है इस पोल में कांग्रेस को 4-7 सीटें ही मिलने की भविष्‍यवाणी की गई है। यह अनुमान कांग्रेस की उम्‍मीदों के ठीक उलट हैं जो प्रियंका गांधी के नेतृत्‍व में ‘चमत्‍कार’ की आस लगाए है।

बता दे कि 2017 के विधानसभा चुनाव में मायावती की पार्टी के खाते में 19 सीटें मिली थीं।मगर बहुजन समाज पार्टी के सामने मिशन 2022 बड़ी चुनौती है। जातीय नेताओं के अभाव में जूझ रही पार्टी की बागडोर मायावती ने इन दिनों सतीश चन्द्र मिश्रा के कंधों पर दी है। और देखा जाय तो सतीश मिश्रा ब्राम्हण वोटों को अपने पाले में लेने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे है मगर वह कहा तक सफल हो पाते हैं यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

Also Read: अब तक विधानसभा चुनाव न लड़ने वाले योगी,ठोकेंगे ताल

सपा के सीटो में हो सकता है ज़बरदस्त उछाल

सर्वे के मुताबिक 2017 विधानसभा चुनाव में महज़ 47 सीटों पर सिमटने वाली समाजवादी पार्टी को अखिलेश यादव की अगुवाई में 137-152 सीटें मिलने का अनुमान है। अगर ऐसा होता है तो यह समाजवादी पार्टी के लिए बहुत बड़ी छलांग होगी.

join vc khabar
spot_img
  • vc khabar
जरूर पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

More Articles Like This

You cannot copy content of this page