Wednesday, August 17, 2022
उत्तर प्रदेशआजमगढ़ उपचुनाव:जनता को भा गयी थी दिनेशलाल यादव निरहुआ की यह बात,लगा...

आजमगढ़ उपचुनाव:जनता को भा गयी थी दिनेशलाल यादव निरहुआ की यह बात,लगा दि मुहर

आजमगढ़.(Azamgarh) रामपुर के बाद आजमगढ़ में भी सपा का किला ढह गया है. आजमगढ़ लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी दिनेश लाल ‘निरहुआ’ ने करीब 10 हजार से अधिक वोट से जीत दर्ज की है. चुनाव आयोग के अनुसार, आजमगढ़ में बीजेपी प्रत्याशी दिनेश लाल यादव को अब तक 2,99,968 वोट प्राप्त हुए हैं, जबकि सपा प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव को 2,89,835 वोट मिले हैं. वहीं बसपा के शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को 2,57,572 वोट प्राप्त हुए हैं. हालांकि शुरूआती रुझानों में काफी उतार चढ़ाव देखने को मिला. कभी बीजेपी प्रत्याशी निरहुआ आगे तो कभी धर्मेंद्र यादव. दोनों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली.

आज़मगढ़ को शायद निरहुआ की कही बात को दिल में बसा लिया था चूँकि दिनेशलाल यादव (Dineshlal Yadav Nirhua) अपनी सभाओ में कई बार एक बात जरूरी कही ‘दुइए बरिस क मौका ह… एह बारी जिता द, अगर नीक ना करब त हरा दिहा लोगन…’निरहुआ के इस वाक्य पर भरोषा जताते हुए आजमगढ़ की जनता ने उनकी जीत को सुनिश्चित कर दिया जिसके बाद दिनेश लाल यादव ‘न‍िरहुआ’ ने एक ट्वीट कर लिखा, ‘जनता की जीत! आजमगढ़वासियों आपने कमाल कर दिया है. यह आपकी जीत है. उपचुनाव की तारीखों की घोषणा के साथ ही जिस तरीके से आप सबने भाजपा को प्यार, समर्थन और आशीर्वाद दिया, यह उसकी जीत है. यह जीत आपके भरोसे और देवतुल्य कार्यकर्ताओं की मेहनत को समर्पित है.’

जरुर पढ़ें:चंदौली का इतिहास : नही जानते तो अवश्य पढ़े

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath)ने ट्वीट कर दि बधाई

वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath)ने ट्वीट कर कहा, आजमगढ़ सदर लोक सभा सीट पर उप चुनाव में मिली ऐतिहासिक विजय आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में ‘डबल इंजन की भाजपा सरकार’ की लोक-कल्याणकारी नीतियों का सुफल है. भाजपा के सभी कर्मठ कार्यकर्ताओं को यह जीत समर्पित है. आभार आजमगढ़ वासियो! यह विजय भाजपा के यशस्वी नेतृत्व तथा समर्पित कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम व डबल इंजन की भाजपा सरकार द्वारा स्थापित सुशासन का सुफल है. रामपुर की जनता का हृदय की गहराइयों से आभार!

आजमगढ़ का जातिगत समीकरण:caste equation of azamgarh

यहां पर लगभग 26 फीसदी यादव वोटर है। इसके बाद यहां मुस्लिम वोटर हैं और 80 हजार राजभर वोटर्स है। यहां पर एम वाई समीकरण को अगर आप मिला दें किसी भी प्रत्याशी के लिए चुनाव जीतना मुश्किल काम नहीं है। विधानसभा चुनाव के दौरान आजमगढ़ की जनता की एक शिकायत थी। उन्होंने कहा कि हमने अखिलेश यादव को 2.5 लाख से भी ज्यादा वोटों से जितवाया था। हमने अखिलेश भइया को दिल से वोट दिया था और लगा था कि हमारे जिले की सूरत बदलेगी मगर अखिलेश यादव पांच सालों में महज एक बार यहां पर आए हैं वो भी किसी पार्टी नेता के घर पर तेरहवीं के कार्यक्रम में। अखिलेश यादव ने हमारे जिले में कोई काम नहीं कराया। ऐसा कहने वाले बहुत लोग थे। स्थानीय लोगों ने बताया था कि हमारे जिले का नाम अक्सर गलत कारणों से ही चर्चा में रहता है मगर हम लोग चाहते हैं कि यहां पर विकास हो, तरक्की हो हमारे लिए रोजगार पैदा हों। यहां के युवा आगे बढ़े।

अखिलेश यादव ने छोड़ी थी सीट(Akhilesh Yadav had left the seat)

आजमगढ़ के चुनावी इतिहास को देखें तो पिछले करीब पांच चुनावों में यह सीट दो नेताओं के आसपास घूमती दिखती है। वह हैं रमाकांत यादव और मुलायम सिंह यादव परिवार। रमाकांत यादव ने तीनों प्रमुख राजनीतिक दलों के टिकट पर इस सीट से चुनाव लड़ा और जीते। जब वर्ष 2014 में मुलायम सिंह यादव आजमगढ़ आए तो यह सीट उनके पाले में चली गई। इसके बाद उनके बेटे अखिलेश यादव ने यहां से जीत दर्ज की। यूपी चुनाव 2022 में मैनपुरी के करहल विधानसभा सीट से जीत दर्ज कर पहली बार विधानसभा पहुंचे अखिलेश यादव ने सांसदी छोड़ दी।


आजमगढ़ उपचुनाव रिजल्ट,निरहू कितने वोटो से जीते,दिनेशलाल यादव को कितना वोट मिला,दिनेश लाल यादव,खेसारी लाल यादव,दिनेशलाल यादव निरहुआ,दिनेश लाल यादव ने जीता उपचुनाव,दिनेश लाल यादव निरहुआ चुनाव जीत गए,दिनेश लाल यादव निरहुआ ने जीता चुनाव,दिनेश लाल,खेसारी लाल,ढह गया सपा का किला,superstar,bhopuri,dinesh lal yadav won,nirahua won azamgarh election,nirahua,azamgarh by election,nirahua in azamgarh by election,azamgarh,azamgarh news,azamgarh by election result,dinesh lal yadav nirahua,azamgarh lok sabha by election

spot_img
vc khabar live tv vckhabar
spot_img
जरूर पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

More Articles Like This