Friday, December 2, 2022
उत्तर प्रदेशGhazipurGhazipur Double Murder Mystery: 24 घण्टे के भीतर पुलिस ने मां बेटी...

Ghazipur Double Murder Mystery: 24 घण्टे के भीतर पुलिस ने मां बेटी की हत्या की गुत्थी सुलझाई,बेटा ही निकला हत्यारा

Ghazipur Double Murder Mystery गाजीपुर। मुहम्मदाबाद(Muhammadabad)कोतवाली क्षेत्रांतर्गत कठउत गांव में रविवार की रात मां-बेटी की गला दबाकर हत्या की सनसनीखेज वारदात का ग़ाज़ीपुर पुलिस(Ghazipur police) ने 24 घण्टे के अंदर खुलासा किया है बताते चले कि इस दोहरे हत्याकांड में मृतक महिला के पुत्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस गिरफ्त में आते ही बेटे ने कबूला गुनाह

पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्त अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि दिनांक 13/11/2022 को समय करीब 20.15 बजे के लगभग अपनी माँ को अपने कमरे में बुलाकर घर बेचने हेतु मनाने का प्रयास किया तैयार न होने पर रस्सी से गला दबा कर माँ की हत्या कर दी और शव को घसीट कर दूसरे कमरे में कर रहा था कि मेरी बहन भी आ गयी और विरोध किया व चिल्लाने लगी तो उसी रस्सी से उसका गला दबा कर उसकी भी हत्या कर दिया और उसी समय मेरी बहन का नाती आ गया रोने पर उसका गला दबाया बेहोस हो जाने पर वही छोड़कर रस्सी अपने तखत के नीचे छुपाकर भाग कर राजू कुशवाहा के घर चल गया,जहां पर पूर्व नियोजित दावत थी जिसका खर्च मैने स्वयं दिया था।

Ghazipur News : पुलिस गिरफ्त में गौरीशंकर

भोजन के बाद राजू के साथ साथ ट्रैक्टर जिसे राजू चला कर खेत जोत रहा था मै ट्रैक्टर पर बैठा रहा जुताई के बाद उसी के घर पर आकर सो गया। सुबह दोनो करीब 5 बजे उठकर मेन रोड पर गये और सुभाष राजभर को फोन कर चाय की दुकान पर बुलाया आने के पूर्व हम दोनो पूर्व ग्राम प्रधान गौसपुर झन्ने के घर पर गये और घटना की जानकारी दी और पुनः चाय की दुकान पर आकर घटना के बारे में बताया और 112 पर मै सुभाष राजभर के फोन से दो औरते व एक बच्चे की हत्या की सूचना दिया था। गौरीशंकर की निशान देही पर उसके तख्त की नीचे सिरहाने से आलाकत्ल रस्सी बरामद हुई तथा उसके हस्तलेख का एक पत्र तकिया के नीचे से बरामद हुआ जो घटना के पूर्व के लिखने व घटना में पुष्टी करता है

गाजीपुर – दोहरा हत्याकाण्ड:क्या है पूरा मामला

गौरीशंकर पुत्र स्व0 केदार निवासी ग्राम कठउत थाना मुहम्मदाबाद जनपद गाजीपुर दिनांक 09.11.2020 को अपने पड़ोस के मोहन राजभर की (साढ़े सात) मण्डा (15 विस्वा )जमीन उसके परिवार के रजामंदी के बिना बहला फुसलाकर गांव के ही मुसाफिर राम को 23 लाख में तय कर संजय राय वर्तमान ग्राम प्रधान के माध्यम से रजिस्ट्री करा दिया और 10 लाख रुपया संजय राय के खाते में तथा 10 लाख रुपया अपने पिता के खाते में डलवा दिया।

रजिस्ट्री के बाद संजय राय द्वारा 3-3 लाख का दो चेक मोहन के नाम व 4 लाख का चेक गौरीशंकर के नाम काट कर दिया गया।मोहन व गौरीशंकर यूनियन बैंक आफ इण्डिया शाहबाज कुली में जाकर पैसा निकालकर गांव में आये और गौरी ने कहा कि पैसा मैं रखा हूँ बाद में दे दूंगा तो तुम्हारे घर वाले जान जाएंगे। इसके बाद गौरी अपनी पत्नी व बच्चों को लेकर अपने ससुराल चला गया।तब से उसकी पत्नी व बच्चे ससुराल में ही रह रहे है। माँ की तबीयत खराब होने पर उसकी बहन मालती करीब एक वर्ष से यही रह रही है।रजिस्ट्री की बात मोहन के लड़के को जानकारी हुई तो गांव वालो की पंचायत हुई और तय हुआ कि 11 लाख 50 हजार गौर के पास है और 11 लाख 50 हजार संजय राय के पास है।संजय राय अपने हिस्से का पैसा देने को तैयार थे।

मुसाफिर राम मुकदमे में बयान देकर जमीन वापस कर देने की बात तय हुई थी परन्तु गौरी हीला हवाली करता चला आ रहा था। दि0 24.01.2020 को पुनः पंचायत हुई तो गौरी ने कहा कि मैं अपना घर बेच कर दिनांक 26.10.2022 को पैसा दे दूंगा।तब से अब तक एक -दो दिन का समय लेता रहा।उसकी माँ घर बेचने को तैयार नही थी पर दबाव डाल रहा था। विवेचना के क्रम में गवाहो के बयान अभिलेखीय साक्ष्य के पुख्ता सबूत पाये जाने पर गौरीशंकर को दिनांक 15.11.2022 समय 3.55 बजे गौसपुर मुख्य सड़क पर गिरफ्तार कर लिया गया

Ghazipur news,Ghazipur Double Murder Mystery,ghazipur crime news,crime news ghazipur,ghazipur ka news,ghazipur samachar,latest news ghazipur,murder mystery

join vc khabar
spot_img
  • vc khabar
जरूर पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

More Articles Like This

You cannot copy content of this page