spot_img
18.3 C
New York
spot_img

Ghazipur News: तीन साल के अबोध बच्चे को सौतेले पिता ने कानपुर में बेचा, पुलिस ने आरोपी सौतेले पिता को रुपए के साथ किया गिरफ्तार

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

– Advertisement –

गाजीपुर । तीन साल के एक नाबालिग बच्चे के अपहरण की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई है और एसपी गाजीपुर ओमवीर सिंह ने मामले का सनसनी खेज खुलासा करते हुए बताया कि अपने सौतेले बेटे को एक पिता ने उसकी मां से चुरा कर किसी अन्य महिला को बेच दिया था। बच्चे के गायब होने की एफआईआर शहर कोतवाली पुलिस को हुई थी जिसके बाद खोजबीन और पुलिस सर्विलांस में मामले का खुलासा हुआ तो पता चला कि जिसका बच्चा है उसी ने अपने बच्चे का सौदा किसी और से कर दिया, फिलहाल पुलिस ने आरोपी बच्चा खरीदने वाली महिला शशिबाला और आरोपी सौतेले पिता संजय यादव जो कानपुर के रहने वाले हैं, उनको गिरफ्तार कर बच्चे को उसकी मां से मिलवा दिया है और दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
एसपी गाजीपुर ने बताया है कि स्थानीय थाना शहर कोतवाली में पंजीकृत मु0अ0सं0 503/23 धारा 363 भादवि से सम्बन्धित अपहृत बालक की सकुशल बरामदगी हेतु गठित संयुक्त टीम द्वारा मात्र 48 घण्टे के भीतर ही अपहृत बालक को क्रय की हुई महिला शशिबाला पुत्री रामप्रकाश नि0 नौवादपुर थाना सट्टी कानपुर देहात को जिला कानपुर देहात से दिनांक 30.09.2023 को गिरफ्तार किया गया एवम् उसके कब्जे से अपहृत बालक को सकुशल बरामद किया गया है, अभियुक्ता शशिबाला द्वारा बताया गया कि उक्त बालक को संजय यादव पुत्र चतुर सिंह यादव नि0 नौवादपुर थाना सट्टी कानपुर देहात से 65000 रूपया देकर मैने खरीदा है एवम् अभियुक्ता शशिबाला उपरोक्त की निशादेही पर बालक को विक्रय करने वाले अभियुक्त संजय यादव पुत्र चतुर सिंह यादव नि0 नौवादपुर थाना सट्टी कानपुर देहात को रेलवे क्रासिंग महराजगंज थाना कोतवाली जनपद गाजीपुर के पास से दिनांक 30.09.2023 को ही समय करीब शाम 5 बजे गिरफ्तार किया गया तथा दौराने जामा तलाशी अभियुक्त संजय यादव उपरोक्त से बिक्री के 65000 रूपये भी बरामद किये गये। गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर मुकदमा उपरोक्त मे धारा 370 भादवि की बढोत्तरी करते हुए अभियुक्तगण के विरूद्ध विधिक कार्यवाही सम्बन्धित थाने द्वारा कर जेल भेजा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि कानपुर के संजय यादव ने एक माह पूर्व ही अपहृत बच्चे रेयाँश की विधवा मां से शादी की थी और फिर इस कांड के बाद पुलिस द्वारा उसका अपराधिक इतिहास भी खंगाला जा रहा है।

– Advertisement –

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय