spot_img
25.8 C
New York
spot_img

पूर्व विधायक मनोज ने गौ रक्षा को लेकर अलीनगर पुलिस की खोली पोल, दिखाया सूरते हाल…

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

Chandauli news :  समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू सोमवार को अलीनगर थाने पहुंचे। वहां बारिश में तड़प रही गौवंश को देखकर उनका हृदय कांप उठा। उन्होंने गौवंश की इस दुर्दशा और पीड़ा के लिए थाने को जिम्मेदार ठहराया। कहा कि गौवंश संरक्षण की बड़ी-बड़ी बातें सरकार करती है, लेकिन आज गौवंश किस हाल में यह अलीनगर थाने में देखा जा सकता है। पुलिस वाले अंदर से तमाशा देख रहे हैं और गौवंश खुले में बारिश के बीच तड़प रही है। उनकी यह पीड़ा बयान नहीं की सकती। उन्होंने जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों को इसे संज्ञान में लेने और उचित कार्यवाही की अपेक्षा की। 

दरअसल गांधी जयंती पर सपा नेता मनोज सिंह डब्लू किसी कार्यक्रम में शरीर होने के लिए मुगलसराय की ओर जा रहे थे। यात्रा के दौरान अचानक उनकी नजर अलीनगर थाना परिसर में जमीन पर पड़े चार-पांच गौवंश पर पड़ी। यह देख उन्होंने गाड़ी रोकवा दिया और बारिश में ही थाना परिसर के अंदर गए और पूरा प्रकरण जानना चाहा। उन्हें बताया किया कि गौवंश को रात्रि के वक्त पकड़ा गया है। इस पर बीमार व मरने की कगार पर पहुंच चुके गौवंश के दवा-ईलाज के बाबत जवाब तलब किया तो वहां मौजूद पुलिस अधिकारी कुछ बता नहीं सके। 

उन्होंने कहा कि गांधी जयंती के दिन अलीनगर थाने में गौवंश तड़प, कांप रही है। गायों के पैरों में बंधी रस्सी तक खोलने वाला कोई नहीं है। दो गौवंश की मौत हो चुकी है और कुछ देर में तड़प रही और गाएं भी मर जाएंगी। लेकिन इससे किसी को कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है। यह दृश्य बड़ा दुखदायी है। जनपद चंदौली के थानों में गौवंश की ऐसी दुर्दशा नहीं होना चाहिए। यह दुर्भाग्यपूर्ण है ऐसी परिस्थितियां किसी भी थाने में उत्पन्न न हो, जिले के जिम्मेदार पुलिस अधिकारी को इस सोचना और करना होगा। क्योंकि जो गौवंश पकड़े जाते हैं उनके चारे, पानी व दवा-ईलाज का कोई प्रबंध इन थानों में अब तक नहीं हो पाया है।

केवल गौवंश व तस्कर पकड़कर, तस्वीरें खींचाकर थाना पुलिस अपनी जिम्मेदारियों की इतिश्री कर लेते हैं। लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए। पुलिस को यह समझनी होगी कि गौवंश सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है, लिहाजा सरकार की छवि को अपने कृत्य से धूमिल ना करें। अलीनगर थाने का जो दृश्य है वह अप्रत्यक्ष रूप से गौवंश की हत्या के समान है।

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय