spot_img
22.7 C
New York
spot_img

लोकसभा चुनाव 2024 : मतदाताओं ने सभी दलों की भर दी है झोली, कम्युनिस्ट पार्टी है खाली

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

मनोहर कुमार

Chandauli news : धान के कटोरे के रूप विख्यात चंदौली जनपद में लोक सभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों की तैयारियां चरम की ओर जा रहीं है. विभिन्न दलों से दावेदारों की सक्रियता पर चर्चा भी हो रही है. संसदीय क्षेत्र में राजनीतिक बयार बहने लगी है. मौसम के मिजाज के अनुसार राजनीतिक आबोहवा उथल पुथल मचा रही है. विभिन्न दलों के संभावित दावेदारों के उम्मीदवार बनने की चर्चा भी जोर पकड़े जाने लगी हैं. इस संसदीय क्षेत्र से कम्युनिस्ट को छोड़ कर सभी राजनीतिक दलों पर एक या दो बार भरोसा किया है. यहां कोई ऐसा दल नहीं है, जिसका झोली नहीं भरी हो.

चंदौली संसदीय क्षेत्र में राजनीतिक समा बंधने लगी है. सभी दल अपने अपने हिसाब तैयारियों को अंजाम देने में लगे हैं. यहां का चुनाव हमेशा से आमने सामने रहा है. कभी बसपा सपा ने जोरदार मुकबला रहा तो कभी भाजपा सपा में टक्कर रही. यहां भाजपा ने हैट्रिक बनाई है, तो कांग्रेस ने पांच बार जीत दर्ज की है. 

चंदौली संसदीय क्षेत्र पर कम्युनिस्ट को छोड़कर कर कोई ऐसा दल नहीं है जो कभी न कभी कब्जा किया हो. कम्युनिस्ट लगभग हर चुनाव में भाग लेते रहे हैं. इस सीट से सोशलिस्ट पार्टी,संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी,जनता पार्टी,जनता दल के उम्मीदवार जीते हैं. कांग्रेस 1984 के बाद एक बार भी इस सीट पर जीत नहीं दर्ज कर सकी है. कम्युनिस्ट इस क्षेत्र में किसी न किसी मुद्दे को लेकर आंदोलन करते रहे हैं. चुनाव में भी उनकी भागीदारी रही. लेकिन जनता ने उन्हें नुमाइंदगी का मौका नहीं दिया. 

इस चुनाव में विभिन्न दलों के सियासी सुरमा टिकट के लिए दिल्ली दरबार में लगे हुए है.अभी चुनावी तारीख की घोषणा नहीं हुई है.गठबंधन के दौर में राजनीतिक दलों के आपसी तालमेल के चलते किस दल के उम्मीदवार को टिकट मिलता है आने वाले समय में साफ हो जाएगा. इस सीट से पहले सांसद कांग्रेस के  त्रिभुवन सिंह और वर्तमान में भाजपा के डा महेंद्र नाथ पांडे हैं.

चंदौली संसदीय क्षेत्र से अब तक के सांसद 

1952              त्रिभुवन नारायण सिंह (कांग्रेस)

1957              त्रिभुवन नारायण सिंह (कांग्रेस) 

1962              बालकृष्ण सिंह (कांग्रेस)

1967              निहाल सिंह (संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी)

1971              सुधाकर पांडेय (कांग्रेस)

1977              नरसिंह यादव (जनता पार्टी)

1980              निहाल सिंह (जनता पार्टी)

1984              चंद्रा त्रिपाठी (कांग्रेस)

1989              कैलाशनाथ सिंह (जनता दल)

1991              आनंदरत्न मौर्या (भाजपा)

1996              आनंदरत्न मौर्या (भाजपा)

1998              आनंदरत्न मौर्या (भाजपा)

1999              जवाहरलाल जायसवाल (सपा)

2004              कैलाशनाथ सिंह यादव (बसपा)

2009              रामकिशुन यादव (सपा)

2014              महेंद्र नाथ पाण्डेय (भाजपा)

2019             महेंद्र नाथ पाण्डेय (भाजपा)

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय