spot_img
18.3 C
New York
spot_img

Chandauli news : सावित्री बाई फुले स्नातकोत्तर महाविद्यालय में संगोष्ठी कार्यक्रम का हुआ समापन

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

Chandauli news : सावित्री बाई फुले राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय चकिया में दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का समापन समारोह किया गया। इस समापन समारोह की मुख्य वक्ता के रूप में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग के प्रोफेसर रंजनाशील रही। जिन्होंने अपने वक्तव्य में कहा है कि वर्तमान संदर्भ में राष्ट और राष्ट्वाद को नए दंग से परिभाषित करने के साथ साथ धर्म को समझने और जोड़ने जैसे रचनात्मक कार्य की आवश्यकता पर जोर देने की बात कही.

इस आयोजन के विशिष्ट अतिथि काशी हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी के इतिहास विभाग के प्रोफेसर मालविका रंजन ने अपने वक्तव्य में कहा कि सुदूर मौखिक इतिहासलेखन की आवश्यकता पर बल देने की आवश्यकता है,जिसमें स्मृतियों एवम् कहानियों का बेहतर उपयोग किया जा सकता है।

विशिष्ट अतिथि प्रोफेसर ताबीर कलाम ने अपने उद्बोधन में कहा कि विभाजन जैसी अमानवीय कृत्य को साहित्य के माध्यम से लोगो के भावना को जागृत करने का कार्य करती है। साहित्य में वर्णित संवाद से तत्कालीन सांस्कृतिक विरासत के दर्द को बेहतर दंग से रेखांकित की है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही महाविद्यालय की प्राचार्य प्रोफेसर संगीता सिन्हा ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि अतिथियों के द्वारा प्रस्तुत व्याख्यान से विद्यार्थी, शोधार्थी और बाहर से आए सभी आगंतुक अमृत काल में विभाजन के पुनर्विचार जैसे विषय पर प्रस्तुत व्याख्यान जरूर लाभान्वित हुए होंगे। 

इस दौरान तकनीक और समानांतर सत्र में डॉक्टर सत्यपाल, डॉक्टर सुतापा दास, डॉक्टर गगनप्रीत, डॉक्टर निर्मल पांडेय , डॉक्टर अजीत कुमार राय, डॉक्टर शिव नारायण आदि विद्यमान रहे। कार्यक्रम का स्वागत आयोजक डॉक्टर संतोष कुमार यादव, धन्यवाद ज्ञापन श्री रामाकांत गौड़, डॉक्टर शमशेर बहादुर ने किया।

इस कार्यक्रम में वरिष्ठ प्राध्यापक डॉक्टर सरवन कुमार यादव, डॉक्टर कलावती, श्री संतोष कुमार,डॉक्टर मिथिलेश कुमार सिंह, डॉक्टर अमिता सिंह, डॉक्टर सुरेन्द्र कुमार सिंह एवम् श्री विश्व प्रकाश शुक्ल सहित डॉक्टर देवेन्द्र बहादुर सिंह, श्री विपिन शर्मा, श्री श्याम जन्म सोनकर आदि कर्मचारी एवम् समस्त छात्र एवम् छात्राएं उपस्थित रहे। 

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय