15.4 C
New York

आजादी की कभी शाम ना होने देंगे, शहीदों की कुर्बानी बदनाम ना होने देंगे- नेता अरूण सिंह

Published:

- Advertisement -

गाजीपुर। सर्वदलीय संघर्ष समिति गाजीपुर के तत्वावधान में 11.30 बजे दिन से 2.00 तक हजारों की संख्या में सरजू पांडेय पार्क कचहरी में पहुंचे अरूणवादी समर्थकों, शुभचिंतकों द्वारा क्रान्ति दिवस के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता बटुक नारायण मिश्र ने किया और संचालन महामंत्री मीडिया प्रभारी गौतम मिश्रा एडवोकेट ने किया। सर्वदलीय संघर्ष समिति गाजीपुर द्वारा आयोजित उक्त कार्यक्रम भारत स्वतंत्रता आन्दोलन में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने एवं भारत की एकता अखंडता और सम्प्रभुता की रक्षा के लिए संकल्प लेने हेतु आयोजित किया गया था। संघर्ष समिति के संयोजक व पूर्व चेयरमैन जिला सहकारी बैंक गाजीपुर नेता अरुण कुमार सिंह ने उपस्थित विशाल जनसमूह को भारत की एकता अखंडता और सम्प्रभुता की रक्षा हेतु भुजाएं आगे करके संकल्प दिलाया एवं सभा को संबोधित करते हुए 9 अगस्त क्रांति दिवस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज ही के दिन अहिंसा के पुजारी, शांति के प्रचारक महात्मा गांधी ने करो या मरो का नारा दिया था,

जिसे आतमशात कर देश की जनता विशेष रूप से नौजवान स्वतंत्रता आन्दोलन में करो या मरो नारे के साथ कूद पड़े और अनेकानेक लोगों ने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुतियां दे दी। नेता अरुण सिंह ने कहा कि देश की क्रान्ति दिवस की आंदोलन में हमारे जनपद के भी नौजवानों ने अपने प्राणों को न्यौछावर कर दिया लेकिन तिरंगा झुकने नहीं दिया,इन शहीदों की याद में 18 अगस्त को मुहम्मदाबाद शहीद स्मारक के समक्ष शहीद दिवस मनाया जाता है और श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं, ऐसे वीर शहीदों को हम कोटि कोटि बार नमन करते हैं और श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।सभा को संबोधित करते हुए अरुण सिंह ने जनपद की कुछ समस्याओं की तरफ जिला प्रशासन का ध्यान आकर्षित करते हुए कहा कि करंडा ब्लाक कांड के मुख्य अभियुक्त को पुलिस प्रशासन संरक्षण दे रहा है वह निंदनीय है,रेवसां गांव में तहसीलदार सदर ने एक काश्तकार की जमीन में जबरदस्ती रास्ता निकलवा दिया है, पीड़ित दर दर घूम रहा है, प्राथमिक विद्यालय बरहीं के प्रांगण की भूमि दबंगों ने कब्जा कर लिया है,इसी तरह से जनता की मूल समस्याओं की जिला प्रशासन द्वारा अनदेखी की जा रही है, इसपर वह उदासीन रहता है, ऐसे अधिकारी, कर्मचारी माननीय मुख्यमंत्री जी की छवि को धूमिल करने पर लगे हुए हैं जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आजादी की कभी शाम ना होने देंगे, शहीदों की कुर्बानी बदनाम ना होने देंगे,बची हो जो एक बूंद लहू की तब तक, भारत माता कि आंचल नीलाम नहीं होने देंगे। शहीदों की याद में दो मिनट का मौन रखकर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई एवं कार्यक्रम स्थल पर रखी महात्मा गांधी,शहीद भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में प्रमुख रूप से सुरेश सिंह एडवोकेट, धीरेन्द्र सिंह एडवोकेट, राजकुमार सिंह,रिजवानुल खां, राजेन्द्र गिरी, अरविंद सिंह, रामशब्द सिंह, लोहा सिंह,गुलाब राजभर, चंद्रिका यादव,योगी हर्ष सिंह,जय राम सिंह, सिद्धांत सिंह करन, नंदलाल जी, प्रवीण विश्वकर्मा, अविनाश सिंह, श्रीप्रकाश केशरी, आसिफ खान वगैरह शामिल रहे।

- Advertisement -

सम्बंधित ख़बरें

Ghazipur News: सड़क दुघर्टना में पीजी कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर की मृत्यु

पत्रकार राहुल पटेल गाजीपुर। पी०जी० कॉलेज के कृषि संकाय में जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग विभाग के प्राध्यापक डॉक्टर उदय प्रताप पाण्डेय का सोमवार के...

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय