spot_img
23.9 C
New York
spot_img

Ghazipur News: कासिमाबाद फर्जी हॉस्पिटल ने ली प्रसूता की जान, मुकदमा दर्ज

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -


स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से हो रही घटना

गाज़ीपुर। कासिमाबाद कोतवाली क्षेत्र के एक निजी अस्पताल पर विवाहिता के डिलीवरी के दौरान ऑपरेशन होने से हालत नाजुक होने पर विवाहिता की मऊ जाते समय मौत हो गई। परिजन अस्पताल के सामने शव को रखकर संचालक के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे।ग्रामीण सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर थाने लाई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बरेसर थाना क्षेत्र के सागा पाली मुरार सिंह गांव निवासी अफरोज अंसारी की पत्नी तजबुन उम्र 25 वर्ष प्रेग्नेंट थी परिजनों ने बताया कि बरेसर चट्टी पर एक निजी अस्पताल संचालिका बिंदु यादव ने कासिमाबाद युसुफपुर रोड स्थित विकास हॉस्पिटल पर डिलीवरी करने के लिए भेजा जहां पर 2:30 बजे अस्पताल पर परिजन पहुंचे ।निजी अस्पताल संचालक के द्वारा तजबून का ऑपरेशन कर दिया गया। जिस दौरान बच्चा हुआ । बताया गया है तजबून को खून की कमी हो गई है हालत खराब होने पर संचालक के द्वारा मऊ रेफर कर दिया गया। जहां विवाहिता की मौत हो गई। यह मामला देख संचालक मौके से फरार हो गया। विवाहिता की मौत से आहत परिजन शव को लेकर देर रात 9 बजे कासिमाबाद विकास हॉस्पिटल पर पहुंचे और शव को रखकर संचालक के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। ग्रामीण सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर थाने लाई जहां फर्जी अस्पताल संचालकों के चल रहे अवैध गोरख धंधों पर नकेल कसने के लिए ग्रामीणों की भी जुड़ गई। अवैध निधि अस्पताल संचालक के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे।कासिमाबाद कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आशेष नाथ सिंह ने बताया कि मृतक के पति अफरोज अंसारी के तहरीर पर विकास हॉस्पिटल के संचालक डॉक्टर अजय राजभर के खिलाफ 304 आईपीसी धारा दर्ज कर पुलिस कार्रवाई में जुटी हुई।

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय