spot_img
21.2 C
New York
spot_img

Ghazipur news: रोजगार सेवक ने एसपी को दिया तहरीर, एफआईआर दर्ज करने की किया मांग

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -





गांव के ही लोगों पर जाति सूचक शब्दों से गालियां देने व रंगदारी मांगने का गंभीर आरोप





गाजीपुर। सादात थाना क्षेत्र अंतर्गत कुवाटी ग्राम सभा में तैनात रोजगार सेवक अशोक कुमार ने एसपी ओमवीर सिंह को तहरीर देते हुए एफआईआर दर्ज करने की गुहार लगाई।
एसपी के तहरीर में पीड़ित रोजगार सेवक ने बताया कि गांव के ही रहने वाले सुनील यादव व रामविलास यादव ने पच्चीस हजार रंगदारी मांगने लगे। मेरे द्वारा नहीं दिये जाने पर जान से मारने की धमकी देते चमारिया सियारिया बोलते हुए जातिसूचक शब्दों से अपमानित किए। भयभीत पीड़ित रोजगार सेवक ने बताया कि इसके पहले मैंने सादात थाना के साथ -साथ सीओ सैदपुर को भी तहरीर दे चुका हूं लेकिन अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं हुआ। एसपी ने पीड़ित रोजगार सेवक को भरोसा दिलाया कि बहुत जल्द एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।


यह है पूरा मामला –


दरअसल बीते 4 मार्च को रोजगार सेवक अशोक कुमार मनरेगा मजदूरों के साथ अमृत सरोवर पर खुदाई करवा रहे थे। तभी गांव के ही सुनील यादव व रामविलास यादव आकर महिलाओं का वीडियो बनाने लगे। रोजगार सेवक ने बताया कि मेरे द्वारा विरोध करने पर उक्त लोगों ने पच्चीस हजार का रंगदारी मांगने लगे। कहे कि तुम बहुत लूट रहे हो । पच्चीस हजार रंगदारी देकर काम कराओ। उन्होंने बताया कि मेरे द्वारा नहीं दिये जाने पर उक्त लोगों ने जातिसूचक शब्दों से गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी देने लगे। डरा सहमा रोजगार सेवक ने आरोप लगाया कि घटना के बाद सादात थाना में तहरीर दिया लेकिन अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं किया गया।



ग्राम प्रधान ने कही यह बात –


कुवाटी गांव के ग्राम प्रधान उत्कर्ष पाण्डेय ने बताया कि यह घटना निंदनीय है अमृत सरोवर पर काम कर रही महिला श्रमिकों का उक्त लोगों द्वारा वीडियो बनाया जा रहा था। रोजगार सेवक से भी पच्चीस हजार का रंगदारी मांगा जा रहा था। पच्चीस हजार नहीं देने पर उक्त लोगों ने जातिसूचक शब्दों से गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी दिया गया था। उन्होंने बताया कि अभी तक सादात थाना पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं किया। लग रहा है कि सादात थाना किसी बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है।


बीडीओ ने जांच कर एफआईआर दर्ज करने का दिया था निर्देश –



घटना के पश्चात पीड़ित रोजगार सेवक के शिकायत पर खंड विकास अधिकारी सादात डॉ सरजीत सिंह द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण कर‌ बताया गया कि सुनील यादव व रामविलास यादव शासन के प्राथमिकता कार्य को बंद कराने कि कोशिश की जा रही है तथा उक्त लोगों द्वारा महिला मनरेगा मजदूरों का वीडियो बनाया जा रहा है। उक्त लोगों द्वारा रोजगार सेवक अशोक कुमार से रंगदारी मांगते हुए जातिसूचक शब्दों से गालियां दिया। बीडीओ ने कहा कि रोजगार सेवक अशोक कुमार के सारे  आरोप पुष्टित है।
बीडीओ ने सादात थाना को निर्देशित भी किया था कि उक्त प्रकरण की जांच कर कार्यवाही करें। लेकिन सादात थाना किसी बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है।


वर्जन –

मामला संज्ञान में है। बीते दिनों कुवाटी के रोजगार सेवक से गांव के ही लोग विवाद किये थे। प्रकरण की जांच चल रही है। बहुत जल्द एफआईआर दर्ज कर लिया जाएगा- आलोक त्रिपाठी, थानाध्यक्ष सादात

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

Ghazipur news: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भदौरा पर मरीजों तीमारदारों को मिल रही सुविधाओं एवं अन्य जानकारियां ली

कायाकल्प क्वालिटी इंश्योरेंस के तहत दो सदस्य टीम सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भदौरा का किया भौतिक निरीक्षणसेवराई। कायाकल्प क्वालिटी इंश्योरेंस प्रोग्राम के अंतर्गत पहुंची दो...

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय