spot_img
25.8 C
New York
spot_img

Chandauli : बिसौरी प्रधानपति शशि प्रकाश मौर्य गए जेल, पहले चंदा जुटाकर लगाई अम्बेडकर व रविदास की मूर्ति, फिर कर दिया गायब

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

Chandauli : सदर विकासखंड के बिसौरी गांव में बंजर भूमि पर प्रतिमा लगवाने के नाम पर पहले ग्रामीणों से प्रधानपति ने चंदा लिया. ग्रामीणों ने खुशी से प्रतिमा के लिए पैसे भी दान दिया. लेकिन प्रधानपति की नियत में खोट निकला. प्रतिमा स्थापित होने के बाद फिर से प्रतिमा हटा ली गईं. प्रधानपति की इस हरकत से ग्रामीणों में रोष फैल गया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की शिकायत पर साक्ष्य सही पाए जाने के क्रम में आरोपी प्रधान पति को को गिरफ्तार कर लिया.

बताया जा रहा है कि सदर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बिसौरी में विशेष समुदाय के लोगों द्वारा बंजर सरकारी भूमि पर प्रधानपति शशि प्रकाश मौर्य ने बाबा साहब  भीमराव अम्बेडकर प्रतिमा व संत रविदास की प्रतिमा बंजर भूमि मे रखने के लिए चंदा के नाम पर पैसा लिया गया व प्रतिमा बिना प्रशासन की अनुमित के रखवा दिया गया. इसके बाद में स्वयं हटा भी दिया. 

ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच में पाया कि बिना प्रशासन के अनुमति के प्रतिमा रखवाई गई. जिससे गांव में शान्ति व्यवस्था भंग होने व संज्ञेय अपराध होने की प्रबल संभावना थी. इस पर पुलिस ने हिरासत में लेकर उपजिला मजिस्ट्रेट सदर जनपद के समक्ष प्रस्तुत किया. जहां न्यायालय द्वारा सम्यक विचारोपरान्त प्रधानपति को 14 दिवस न्यायिक अभिरक्षा में जिला कारागार वाराणसी भेज दिया.

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय