13.4 C
New York

Ghazipur news: कासिमाबाद लेखपाल को छह हजार घूस लेते हुए एंटी करप्शन टीम ने रंगेहाथ पकड़ा, तहसील परिसर में मचा हड़कंप

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

- Advertisement -


गाजीपुर । कास्तकारी जमीन के सीमांकन के नाम पर 6 हजार रुपये घूस लेने वाले राजस्व लेखपाल को शुक्रवार के दिन एंडी करप्शन वाराणसी मंडल की टीम ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। इस कार्रवाई से कासिमाबाद समेत अन्य तहसीलों में तैनात लेखपालों व अन्य राजस्व कर्मियों में हड़कम्प मच गया है। अचानक हुई इस कार्रवाई से राजस्व विभाग के समस्त कर्मचारी सकते में आ गये है। घूस लेते रंगेहाथ पकड़े गये लेखपाल को टीम के लोग नोनहरा थाने लाये जहां उसके खिलाफ कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद उसे जेल भेज दिया गया।
एंडी करप्शन विभाग वाराणसी मंडल के ट्रैप टीम प्रभारी सहवीर सिंह ने अनुसार कासिमाबाद तहसील के महड़ौर कार्यक्षेत्र में तैनात राजस्व लेखपाल सुरेन्द्र राम पुत्र स्व. शकलदीप राम निवासी अंधऊ थाना शहर कोतवाली पर हरेराम चौहान पुत्र स्व. राजदेव चौहान निवासी मुहम्मदपुर तड़वा ने आरोप लगाया था कि जमीन के सीमांकन के नाम पर रिपोर्ट लगाने के लिए उक्त लेखपाल ने 6 हजार रुपये घूस की डिमांड की है। एंटी करप्शन टीम के निरीक्षक ने बताया कि शिकायतकर्ता की बातों को गम्भीरता से लेते हुए जांच की गई और इसके बाद मानीटरिंग कर उक्त लेखपाल को घूस लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया गया है।
यह कार्रवाई कासिमाबाद तहसील परिसर में की गई। इस दौरान वहां राजस्व विभाग के काफी कर्मचारी मौके पर मौजूद रहे। पहले तो राजस्वकर्मी समझ ही नहीं पाये कि आखिरकार मसला क्या है, लेकिन जब उन्हें पता चला कि यह एंटी करप्शन की कार्रवाई है तो वह पीछे हट गये। टीम के लोग पकड़े गये लेखपाल को लेकर नोनहरा थाने में पहुंचा। जहां उसके गिरफ्तारी के सम्बंध में कागजी कार्रवाई को पूरा किया गया। इसके बाद मुकदमा दर्ज कराया गया। टीम में निरीक्षक सहवीर सिंह समेत प्रमोद कुमार, राकेश बहादुर सिंह, शैलेन्द्र कुमार राय, विनोद कुमार, सूरज गुप्ता, वीरेन्द्र प्रताप सिंह, अश्वनी पाण्डेय, विनय यादव शामिल रहे।

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय