Home उत्तर प्रदेश सोनभद्र Sonbhadra News : नौकरियों में सरकार बंद करे ठेकेदारी प्रथा , पुरानी पेंशन बहाली को लेकर जंतर-मंतर पर गरजे शिक्षक

Sonbhadra News : नौकरियों में सरकार बंद करे ठेकेदारी प्रथा , पुरानी पेंशन बहाली को लेकर जंतर-मंतर पर गरजे शिक्षक

0
Sonbhadra News : नौकरियों में सरकार बंद करे ठेकेदारी प्रथा , पुरानी पेंशन बहाली को लेकर जंतर-मंतर पर गरजे शिक्षक
यूटा जिलाध्यक्ष शिवम अग्रवाल के नेतृत्व में सोनभद्र के सैकड़ों शिक्षकों ने किया प्रतिभाग

सोनभद्र । पुरानी पेंशन की माँग को लेकर आंदोलित शिक्षकों ने दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रभावी प्रदर्शन कर अपने हक के लिए सड़क पर संघर्ष करने का ऐलान किया।

कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर प्रदेशभर के विभिन्न विभागों के कर्मचारियों के अतिरिक्त शिक्षक संगठन यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन (यूटा) के तत्वावधान में हजारों की संख्या में शिक्षकों ने धरना प्रदर्शन में प्रतिभाग किया।

नौकरियों में सरकार बंद करे ठेकेदारी प्रथा –

यूटा के जिलाध्यक्ष शिवम अग्रवाल के नेतृत्व में जनपद सोनभद्र से कई दर्जन शिक्षकों ने धरनास्थल पर पहुंचकर अपनी मांग को बुलंद किया। प्रदर्शन के दौरान यूटा के प्रदेश अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह राठौर ने कहा कि नौकरियों में ठेकेदारी प्रथा बंद नहीं की तो देश की युवा पीढी का भविष्य संकटमय होगा। उन्होंने राष्ट्रीय वेतन आयोग के गठन की भी मांग की। एक दिवसीय ध्यानाकर्षण रैली एवं धरना प्रदर्शन के दौरान प्रदेशभर के आंदोलनकारी शिक्षकों और कर्मचारियों को कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष वी0पी0 मिश्रा, महामंत्री प्रेमचंद, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश रावत, महासचिव अतुल मिश्रा सहित यूटा के जिलाध्यक्ष शिवम अग्रवाल ने संबोधित किया। इस दौरान आंदोलनकारी शिक्षकों ने ऐलान किया कि पेंशन की लड़ाई अब करो या मरो की है, वह इस लड़ाई को निरंतर सड़क पर लड़ेंगे और प्रदेशव्यापी आंदोलन जारी रखेंगे।
जनपद से यूटा के जिला महामंत्री राम, घोरावल ब्लॉक अध्यक्ष राजीव कुमार, जिला संगठन मंत्री धर्मराज सिंह, ब्लॉक अध्यक्ष म्योरपुर प्रभात कुमार भारती, अमित विश्वास आदि ने प्रतिभाग किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here