spot_img
12.9 C
New York
spot_img

Ghazipur news: पराली के आग से राख हो रहे किसानों के सपने

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -



सेवराई। (गाजीपुर): सरकार ने प्रदूषण के प्रभाव को रोकने के लिए पराली जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसके लिए लोगों को जागरुक करने हेतु बड़े-बड़े विज्ञापन और प्रचार-प्रसार के काम भी हो रहे हैं, परंतु किसानों की लापरवाही पराली जलाने में कम नहीं हो रही। गेहूं की फसल खेतों में तैयार है और उसे हार्वेस्टर के माध्यम से काटा जा रहा है। गेहूं के कटनी के बाद बच्चे अवशेष यानी पराली को किसान आग के हवाले कर दे रहे हैं और यह आग हवा की तेजी से भड़क कर खड़ी फसल व खेतों में काटकर रखें गए फसल के खेत तक फैल रही है, जिससे गेहूं तथा अरहर आदि खेत में ही जलकर राख हो रहा है। तहसील सेवराई क्षेत्र के कई गांव में इस तरह की घटनाएं घट चुकी है और इस वजह से किसानों के सपने भी जलकर राख हो रहे हैं।
शनिवार को गांव उसीयां के सिवान में किसानों ने गेहूं की कटाई के बाद पराली में आग लगा दी। पराली में लगी आग धीरे-धीरे फैलते हुए गोडसरा गांव के सिवान के गेहूं के पराली के खेत तक पहुंच गई और फिर अरहर की फसल काटकर खेत में रखी गईं व खडी फसल जलकर राख हो गई। इस वजह से लगभग दो बीघे में लगे अरहर की फसल का नुकसान हुआ। फसल गोडसरा गांव के सगीर खां, मंगरु यादव, जैनुद्दीन आदि का बताया जा रहा है। ग्रामीण नौसद खां, सैफ खान, धर्मेंद्र, गोरख राम आदि  ने बताया कि पराली में आग लगा देने से आग भड़की और अरहर की फसल जलकर राख हो गई। हार्वेस्टर से फसल की कटाई के बाद खेतों में पराली बचा हुआ था। बताया कि क्षेत्र में पराली को किसानों के हवाले कर दे रहे हैं और किसानों में पराली नहीं जलाने को लेकर कोई जागरुकता नहीं देखी जा रही है। उधर, दो दिन पूर्व भी मगरखाई, कुतुबपुर बारा के गांव में गेहूं अरहर व केला की फसल में इसी वजह से आग लग गई। इसमें लगभग 5 बीघे में लगी गेहूं, अरहर, केला की फसल जलकर राख हो गई। पराली की आग शिवपुर दलित बस्ती को अपने आगोश में लेती उससे पहले फायर सर्विस की गाड़ी मौके पर पहुंच गई और एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया नहीं तो एक बड़ी दूर्टघना हो सकता था।
इनसेट-
गहमर थाना क्षेत्र के सेवराई गांव के सिवान में कुछ किसानों द्वारा अपने खेत के पराली को जलाते समय तेज हवा के चलते निजी नलकुप की झोपड़ी नूमा घर में आग लग गया। घर में लगा बिजली का मोटर, स्टार्टर सहित लाखों का समान जलकर राख हो गया।
गोडसरा गांव निवासी वसीम खां ने बताया कि सेवराई गांव के करवनिया डेरा के पास अपने खेत में निजी नलकुप लगाए हैं।  सेवराई गांव के करवनिया डेरा निवासी झुनखुन व धर्मेंद्र मिलकर पराली जला रहे थे। पराली की आग मेरे नलकूप तक पहुंच गया जिससे नलकूप का बिजली का केबील, मोटर, स्टार्ट, चारपाई, बिस्तर, 120 किलोग्राम पाईप व आम का बगिचा जलकर राख हो गया। जिसकी लिखित तहरीर गहमर थाना के चौकी सेवराई को दिया गया है।

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

Ghazipur news: दिलदारनगर हत्या के नियत से चाकू से हमला करने वाले शातिर को पुलिस ने किया गिरफ्तार

गाजीपुर। दिलदारनगर थाना पुलिस को हत्या के नियत से चाकू से हमला करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई है। उल्लेखनीय...

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय