spot_img
26 C
New York
spot_img

Chandauli news : अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में सावित्री बाई फुले पीजी कालेज में आयोजित होगा संगोष्ठी

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

Chandauli news : आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष में ग्राम पंचायत मोहम्मदाबाद के शेरपुर में स्थित सावित्रीबाई फुले राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मे सात व आठ अक्टूबर को अमृत काल में विभाजन पर पुनर्विचार विषयक पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया है. इस कार्यक्रम का उद्घाटन राष्ट्रीय संगोष्ठी के प्रथम दिवस किया जाएगा. जिसमें मुख्य अतिथि प्रोफेसर बिंन्दा डी. पराजपे संकाय प्रमुख, सामाजिक विज्ञान संकाय, काशी हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी होंगे. विशिष्ट अतिथि प्रोफेसर घनश्याम विभागाध्यक्ष इतिहास विभाग, काशी हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी और प्रोफेसर सविता भारद्वाज प्राचार्य राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय गाज़ीपुर एवं मुख्य वक्ता डॉक्टर मनोज वर्मा एसोसिएट प्रोफेसर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय नई दिल्ली आदि उपस्थित रहेंगे. 

विदित हो कि आयोजन का समापन सत्र 8 अक्टूबर को किया जाएगा. जिसमें मुख्य अतिथि डॉक्टर ब्रिजकिशोर त्रिपाठी, क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी वाराणसी एवं विशिष्ट अतिथि प्रोफेसर रंजनाशील, प्रोफेसर ताबीर कलाम एवं प्रोफेसर मालविका रंजन इतिहास विभाग, काशी हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी आदि होंगे. इस मौके पर भारत के विभिन्न विश्वविद्यालय जैसे काशी हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय नई दिल्ली, दिल्ली विश्वविद्यालय नई दिल्ली, इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रयागराज, भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय लखनऊ, सहित अनेक राज्यों के विश्वविद्यालयो से विभिन्न विषय के विद्वान और शोधार्थी लगभग 200 से अधिक शिरकत करने की संभावना है.

इस कार्यक्रम में महत्वपूर्ण उपविषय पर जैसे साहित्य कला वह सिनेमा में विभाजन और गुमनाम नायक विभाजन, और राजनीति की विभिन्न स्वर विभाजन और पहचान की समस्या स्मृतियां विभाजन और महिलाएं विभाजन और सीमा समस्या विभाजन का भारत की अर्थव्यवस्था समाज सहित इत्यादि विषयों पर विमर्श किया जाएगा। पत्रकार वार्ता करते हुए महाविद्यालय की संरक्षिका/प्राचार्य प्रोफेसर संगीता सिन्हा ने राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन के प्रति हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि इसके माध्यम से विभाजन के ऐतिहासिक परीघटनाओं सहित विभिन्न पहलुओं एवं प्रभावों की विस्तृत जानकारी प्राप्त होने की संभावना होगी. जिससे विद्यार्थी शोधार्थी और जन सामान्य लोग  लाभान्वित होंगे.

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय