spot_img
16.3 C
New York
spot_img

Anupama टीवी सीरियल में आया भयंकर ट्विस्ट दर्शक देख यह क्या बोल दिए जानिए ऐसा क्या हुआ 

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -

अनुपमा Anupama के किस्मत में किस तरीके से अपने आप को किसी के इन्तजार में इस तरह बनाए रखने की कोशिश कर रही है आज के इस पोस्ट में आपको अनुपमा अपकमिंग स्टोरी के बारे कंपलीट जानेंगे । अनुपमा के नए एपिसोड कि जैसे ही शुरुआत होगी उसमें अनुपमा की मां बहुत ही प्यार से अनुपमा को मोटिवेट करते हुए नजर आएगी अनुपमा को अनूप कुमार की मां कहती है कि जब जिंदगी एक हाथ से दुख देती है तू जिंदगी कहीं ना कहीं एक हाथ से सुख भी देती है। 

अनुपमा की मां अनुपमा से कहती है कि जिंदगी में किसी की जब इंतजार करनी हो तो उसे इस तरीके से इंतजार करो कि जब वह आपसे मिले तो आपके इंतजार में और किस तरीके से अपने आप को मजबूत बना कर रखा है ताकि वह उसके ना आने पर भी अपने आपको समय के अनुसार चला सके इस प्रकार से कुछ बना चाहिए। 

Anupama

अनुपमा Anupama को मिला एक और नया साथी  

अनुपमा आपको नए एपिसोड में देखने को मिलेगा कि रात के समय सो रही होती है अचानक अनुपमा के कुछ सपने दिखाई देते हैं और अनुपमा जग जाती है जग करके अनुपमा अपने रूम से बाहर की तरफ आती है तो बाहर देखती है कि गेट के पास भारवी भी बाहर ही सोई हुई है । जिसको देखकर के अनुपमा परेशान हो जाती है भारवी Anupama की स्टूडेंट है।

अनुपमा उसके पास आती है और उसे जगाती है अनुपमा भारवी से पूछती है कि इतनी रात को अकेले तुम यहां पर क्यों सोई हो वह भी रोड पर तब भारवी उसे बताती है कि बाबा छोड़ चले गए हैं और मां पहले ही चल बसी है यह सुनकर के अनुपमा बहुत ही ज्यादा उदास हो जाती है और तुरंत से ही भारवी को अपने घर ले जाने को चलने को कहती है लेकिन अनुपमा की स्टूडेंट बोलते हैं कि नहीं हमें यही पर ठीक है। 

अनुपमा के समझाने पर भारवी मान जाती हैं और घर में जाती है जैसे ही भारवी गेट पर जाती है प्रमाण करती है और बोलती है कि टीचर पापा कहते हैं कि जो घर आपको सहारा देता है वह एक मंदिर की तरह होता है और किसी भी मंदिर में अधिक समय तक नहीं रहना चाहिए हम कल सुबह तक निकल जाएंगे। छोटी सी बिटिया की बात सुनकर अनुपमा कहती है कि बिटिया कितनी स्वाभिमान है की किसी पर बोझ नहीं बनना चाहती।

Anupama & Bharavi Beautiful Conversation 

सुबह होता है तो अनुपमा देखती है कि भारवी बिस्तर पर नहीं है और बिस्तर को सही तरीके से सजा कर के रख कर चली गई है अनुपमा जल्दी से जल्दी है और बाहर आकर देखती है तो भारवी ठेले पर कुछ सब्जी रख कर के भेजते हुई नजर आती है अनुपमा उसे देख कर के आश्चर्य हो जाती है भारवी अपनी दुकान की पूजा करती है और सब्जी बेचने की शुरुआत करते हैं।

भारवी के साथ अनुपमा उसको सब्जी बेचने में मदद करती है और कहती है कि भारवी हम तुम्हारी तब तक साथ देना चाहते हैं जब तक तुम अपने पैरों से खुद से मजबूत ना हो जाओ । अनुपमा के सभी एपिसोड अगर आप देखते हैं तो यह सीन देख कर के आप के आंसू तो जरूर आ जाएंगे किस तरीके से ही बिन मां बाप के बच्चे अपनी मजबूत जज्बे के साथ हिम्मत के साथ जिंदगी की शुरुआत करती है। 

हम आपके लिए और भी ऐसे अनुपमा टीवी सीरियल के लिखित अपडेट, अपकमिंग ट्विस्ट के बारे में जानकारी आपके साथ साझा करते रहेंगे आप हमे Telegram पर ज्वॉइन कर सकते है।

Also Read : Radha Mohan Spoilers: राधा के जीवन की अंतिम समय कोई नही होगा आस पास दामिनी का मास्टर प्लान में फसी राधा ! 

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

Ghazipur news: करीमुद्दीनपुर के डालिम्स सनबीम स्कूल, गांधीनगर में धूमधाम से मना मदर्स डे

गाजीपुर/करीमुद्दीनपुर के बाराचवर विकास खंड के गांधीनगर में स्थित सीबीएसई नई दिल्ली द्वारा मान्यता प्राप्त डालिम्स सनबीम स्कूल, गांधीनगर में मदर्स डे धूम धाम...

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय