spot_img
22.5 C
New York
spot_img

Ghazipur news: सेवराई तहसील बना भ्रष्टाचार का अड्डा,फर्जी वकील बन बरसात के नाम पर लिया साठ हजार

WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

Published:

spot_img
- Advertisement -


सेवराई। (गाजीपुर): दिवानी तहसील न्यायालय सेवराई बना भ्रष्टाचार का अड्डा फर्जी अधिवक्ताओं से आम जनता परेशान। ऐसे अधिवक्ताओं से बार एसोसिएशन सेवराई  अनभिज्ञ बना हुआ हैं। अधिवक्ता बन एक मुवक्किल से जमीन रजिस्ट्री करवाने के नाम पर 60 हजार (साठ हजार) रुपए ऐंठ लिया। जिलाधिकारी आर्यका अखौरी के आदेश पर उपजिलाधिकारी संजय यादव ने बार एसोसिएशन सेवराई को पत्र जारी कर अध्यक्ष एवं मंत्री बार संघ तहसील सेवराई को इस आशय से कि तहसील सेवराई में स्थित अधिवक्तागण की सूची मय रजिस्ट्रेशन नम्बर व सी०ओ०पी० नम्बर के साथ प्रस्तुत करे। ताकि
उपरोक्त के सम्बन्ध में जांच कर जिलाधिकारी महोदया को आख्या प्रेषित किया जा सके। उक्त के सम्बन्ध में अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें, ताकि प्रकरण के सम्बन्ध में जिलाधिकारी महोदया को अवगत कराया जा सके।
अभिजित राम द्वारा जिलाधिकारी आर्यका अखौरी को  प्रार्थना पत्र देकर बताया कि पिता के देहांत के बाद जमीन की विरासत कराने के लिए तहसील सेवराई में गया था।
तहसील न्यायालय के मुख्य गेट के सटे पूरब तरफ काली कोट मे अधिवक्ताओं की कतार में महेन्द्र पाण्डेय बैठे थे, जो खुद को वकील बताता है। हमारे रजिस्ट्री में झांसा देकर मुझसे 60 हजार रुपए ले लिया। और मेरा काम भी नहीं  कराया। मुझे बाद में पता चला कि वो वकील नहीं दलाल है, हमारे जैसे भोली-भाली जनता को हर रोज ठगता है, न्यायालय परिसर में टेबल लगाकर न्यायालय अधिवक्ताओं के साथ नियमित बैठता है यही नहीं छुट्टी के दिन भी तहसील परिसर में अपने टेबल पर बैठता है। जब अपना पैसा मांगता हूं तो सेवराई गांव का दबंग बताते हुए गाली-गलौज करने लगा और मारपीट पर उतारु हो गया।

बार एसोसिएशन तहसील सेवराई के अध्यक्ष एवं मंत्री
को पत्र जारी कर तहसील सेवराई में स्थित अधिवक्तागण को सूची मय रजिस्ट्रेशन नम्बर व सी०ओ०पी० नम्बर के साथ मांगा गया है। प्रकरण के सम्बन्ध में  स्पष्टीकरण मिलते ही इसकी पूरी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेज दिया जाएगा।
संजय यादव उपजिलाधिकारी सेवराई।

बार एसोसिएशन संघ सेवराई में उपरोक्त नाम का कोई अधिवक्ता का रजिस्ट्रेशन नहीं है। नाही तहसील परिसर में बैठ रहे ऐसो लोगों से बार एसोसिएशन का कोई वास्ता है। बार एसोसिएशन द्वारा एक कमेटी गठित कर तहसील परिसर में बैठ रहे फर्जी अधिवक्ता, मुन्सी आदि की जांच कराएगी।
अजय राय अध्यक्ष बार एसोसिएशन सेवराई।

- Advertisement -
WHATSAPP CHANNEL JOIN BUTTON VC KHABAR

सम्बंधित ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

राष्ट्रिय